Category: desh bhagti geet

जै बजरंगी जै माँ काली

जै बजरंगी जै माँ काली,बम बम हर हर बोलो रे बेली।भारत रो इतिहास उजलो,चिनोक पानो खोलो रे बेली। यूनानी जोधो सेल्यूकस, चढ भारत पर आयो होपीठ उपर पड़ी गदागद, मोर…

म्हाने घणो सुहाणो लागे जी प्यारो राजस्थान

म्हाने घणो सुहाणो लागे जी, प्यारो राजस्थान।रंगीलो राजस्थान, अलबेलो राजस्थान।म्हाने घणो सुहाणो …………………………।ऊँचा-ऊँचा टीबा माथे, ऊँटा रो ओषाण।नागौरी बळद्या दौड़े हे सारा हिन्दुस्थान।म्हाने घणो सुहाणो ……………………….।उदयपुर झीलां री नगरी, जैपरियो…

धरती धोरां री

धरती धोरां री ओ हो धरती धोरां रीआ तो सुरगा ने शरमावे,इ पर देव रमण ने आवेइ रो जस नर नारी गावै धरती धोरां रीओ हो धरती धोरां री…………………….।सूरज कण-कण…

इण धरती रो म्हाने अभिमान हो

इण धरती रो म्हाने अभिमान होइण पर वारां प्राण होआ धरती हिन्दवाण री आ धरती हिन्दुस्थान रीउत्तर में पहरे पर उभो परवत राज हिमाले है।दक्षिण में रत्नाकर सागर इण रा…