कक्षा स्तरानुसार विभिन्न कक्षाओं में विषयवार निर्धारित साप्ताहिक कालांश विवरण (Class wise subject wise period distribution )

प्राथमिक कक्षाएँ (Class 01 to 05)

क्र.सं. विषय कुल साप्ताहिक कालांश – 48
कक्षा-1 व 2 कक्षा-3 से 5
1 हिन्दी 12 12
2 अंग्रेजी 6 6
3 गणित 12 9
4 पर्यावरण अध्ययन 6 9
5 कार्यानुभव 3 4
6 कला शिक्षा 3 4
7 स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा 6 4
  योग 48 48

उच्च प्राथमिक कक्षाएँ (Class 06 to 08)

क्र.सं. विषय कुल साप्ताहिक कालांश – 48
कक्षा-6 से 8
1 हिन्दी 6
2 अंग्रेजी 6
3 गणित 6
4 सामाजिक विज्ञान 6
5 विज्ञान 6
6 तृतीय भाषा 6
7 कार्यानुभव 2
8 कला शिक्षा 2
9 स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा 2
10 पुस्तकालय 1
11 निदानात्मक 5
  योग 48

 माध्यमिक कक्षाएँ (Class 09 to 10)

क्र.सं. विषय कुल साप्ताहिक कालांश – 48
कक्षा-9 व 10
1 भाषाएँ  
(1) हिन्दी 6
(2) अंग्रेजी 6
(3) तृतीय भाषा 5
4 विज्ञान 8
5 सामाजिक विज्ञान 8
6 गणित 8
7 राजस्थान अध्ययन 2
8 स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा 2
9 फाउंडेशन ऑफ इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी 2
10 समाजोपयोगी उत्पादक कार्य एवं समाज सेवा, कला शिक्षा 1
  योग 48

नोट :

  1. ऐसे विद्यालय जहाँ कम्प्यूटर लैब की सुविधा नहीं है, वहाँ के संस्था प्रधान पाठ्यक्रम एवं शाला की स्थानीय आवश्यकता के अनुसार फाउंडेशन ऑफ इन्फोर्मेशन टेक्नोलॉजी के लिए निर्धारित कालांशों का समायोजन अन्य विषयों के शिक्षण में कर सकते हैं।
  2. खेल प्रवृतियाँ शून्य कालांश में संचालित की जा सकती हैं।
  3. नैतिक शिक्षा, प्रार्थना सभा, उत्सव आयोजनों एवं सभी विषयों के शिक्षण में समाहिक है।
  4. पुस्तकालय में पुस्तकों का आदान-प्रदान शून्य कालांश/मध्य अंतराल में किया जा सकता है।
  5. व्यावसायिक शिक्षा का अध्यापन इस हेतु चयनित विद्यालयों के अतिरिक्त विषय के रूप में करवाया जायेगा, जिसके लिए विद्यालय के समय विभाग चक्र में प्रति सप्ताह 6 अतिरिक्त कालांश की व्यवस्था अतिरिक्त समय में की जाएगी।

उच्च माध्यमिक कक्षाएँ (Class 11 and 12)

क्र.सं. विषय कुल साप्ताहिक कालांश – 48
कक्षा-11 कक्षा-12
1 हिन्दी 6 6
2 अंग्रेजी 6 6
3 राजस्थान अध्ययन 3 3
4 जीवन कौशल 3
                            5. ऐच्छिक विषय
  (1) प्रथम 10 1
  ( 2 ) द्वितीय 10 1
  (3) तृतीय 10 1
  योग 48 48

नोट:

  1. नैतिक शिक्षा : प्रार्थना सभा, उत्सव आयोजनों एवं सभी विषयों के शिक्षण में समाहित है।
  2. पुस्तकालय में पुस्तकों का आदान-प्रदान शून्य कालांश/मध्य अंतराल में किया जा सकता है।
  3. शारीरिक शिक्षा एवं खेल गतिविधियां विद्यालय समय के पूर्व एवं पश्चात् अपेक्षित हैं।
  4. कक्षा 11 उत्तीर्ण नियमित विद्यार्थियों को ग्रीष्मावकाश के दौरान विद्यालय में आयोज्य पन्द्रह दिवसीय ‘ समाज सेवा योजना शिविर’ में भाग लेना अनिवार्य है। शिविर की ग्रेडिंग का अंकन कक्षा 12 की अंकतालिका/प्रमाण-पत्र में किया जाएगा। राष्ट्रीय सेवा योजना (एन.एस.एस.) में भाग लेने वाले विद्यार्थी इस शिविर से मुक्त रहेंगे, किन्तु इन विद्यार्थियों की अंकतालिका/प्रमाण-पत्र में राष्ट्रीय सेवा योजना (एन.एस.एस.) में भाग लेने का अंकन किया जाएगा।

You missed